ad

Tuesday, 28 February 2017

Hakim Lukman in childhood

हकीम लुकमान बचपन में गुलाम थे। वह अपने मालिक के घर रहकर काम करते थे। एक दिन मालिक ने खाने के लिए एक ककड़ी खरीदी। ककड़ी कड़वी थी तो मुंह में जाते ही मालिक का मुंह कड़वा हो गया। उसने मजाक में वह ककड़ी लुकमान की ओर बढ़ाते हुए कहा, ‘ले, तू यह ककड़ी खा ले।’ लुकमान ने ककड़ी मुंह में डाली तो उसे भी वह कड़वी लगी, लेकिन उसने बिना कुछ कहे ककड़ी खा ली।

मालिक को आश्चर्य हुआ कि उसने लुकमान के मुंह को देखने के लिए मजाक में ककड़ी दी थी पर उसने उसे बड़ी आसानी से कैसे खा लिया? मालिक ने पूछा, ‘लुकमान, तूने इतनी कड़वी ककड़ी कैसे खाई?’ लुकमान ने जवाब दिया, ‘मैं आपके आश्रय में रहता हूं। आप रोज मुझे खाने को स्वादिष्ट चीजें और सुविधाएं देते हैं। मैं उन वस्तुओं का उपभोग कर आनंदित होता हूं। मैंने सोचा, यदि मालिक की इच्छा है, मैं एक दिन ऐसी ककड़ी खाऊं तो क्यों न प्रसन्नता से ही खाऊं। बस यही सोचकर मैंने आपकी दी हुई ककड़ी खा ली।’

लुकमान का मालिक धार्मिक और समझदार व्यक्ति था, उस पर लुकमान की बात का असर हुआ। वह बोला- ‘लुकमान आज तुमने मुझे उपदेश दिया है कि जो परमात्मा हमें जीवन में अनेक सुख देता है, उसकी मर्जी से यदि हमें कोई दुख भुगतना पड़े, तो उसे प्रसन्नता से ही स्वीकार करना चाहिए। जीवन में अनुभवों को अहोभाव से स्वीकार करना एक अत्यंत महत्वपूर्ण गुण है। इसकी ही बदौलत अनुभवों में छिपे संदेश को ग्रहण करने में सक्षम हुआ जा सकता है। यह हमें परिपक्व बनाता है तथा समत्वभाव को जाग्रत करने में भी सहायक होता है। यह समत्वदृष्टि ही मानव जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि एवं मुक्ति का साधन है।’ उसने लुकमान को धन्यवाद देते हुए उसे गुलामी से मुक्त कर दिया।
कैसी भी परिस्थिति हो हमें प्रभु की कृपा समझ कर उसे स्वीकार करना चाहिए!!

Sunday, 26 February 2017

Jokes in Hindi


  जिंदगी में वही लोग ईमानदार होते हैं
.
.
जो कि मटर छीलते वक्त..
एक भी दाना नहीं खाते !!
.
.
.
 ग्राहक - भाई चूहे मारने की दवाई देना
.
दुकानदार - घर ले जानी है ? 
.
ग्राहक - नहीं चूहा साथ लेकर आया हूँ ,इधर ही खिला दूँगा ।
.
.
.
.
आपरेशन के बाद पेशेंट बोला---" डाक्टर साहब, क्या अब मैं रोग मुक्त हूँ ? "
.
सामने से जवाब मिला---" बेटा, डाक्टर साहब तो धरती पर ही रह गए, मैं तो चित्र गुप्त हूँ। "
.
.
.
.
 पंजाब पुलिस का कमाल...

संता तालाब मे नहा रहा था।

पुलिस- चल ओये बाहर आके कपड़े पा ले 
तेरी तलाशी लेनी है...
.
.
.
.
 केवल दो तरह के आदमी 
स्त्रियों को नही समझ पाते...

' कुंवारे' और 'विवाहित' 

....और जिन्होंने समझ लिया वो बेचारे 'साधू' बन गए...!
.
.
.
.
तकनीकी खराबी के चलते मारुती ,होंडा व फोर्ड ने कई बार कारें वापस बुलवाई......

सैमसंग ने note 7....

पता नही ये बात ससुराल वालों का कब समझ आयेगी.... ?
.
.
.
.
 कल अमर उजाला में एक आर्टिकल पढ़ा

बीबी को कैसे रखे नियंत्रित

पूरा आर्टिकल एक सांस में पढ़ लिया - सुबह टहलने जाए, ज्यादा हरी सब्जियां खाये, क्रोध न करे, खान पान का विशेष ध्यान रखे, रेगुलर चेक अप करवाये, वगैरह वगैरह....................................

बाद में फिर से हेडिंग पढ़ी, दिमाग ख़राब हो गया, लिखा था - बीपी को कैसे रखे नियंत्रित,

आँखें चैेक करवानी पड़ेगीं
.
.
.
.
 मैं   गया था   सोचकर, 
बात   बचपन   की   होगी,

दोस्त   मुझे   अपनी   तरक्की   सुनाने   लगे ...।
.
.
.
.

 Santa को एक लावारिस बंदर का बच्चा मिला। वह उसे पुलिस स्टेशन ले गया।
इंस्पेक्टर ने कहा: इसे चिड़ियाघर ले जाओ।
Santa दूसरे दिन बंदर के साथ
बस स्टॉप पर खड़ा था।
इंस्पेक्टर ने देखा तो पूछा: इसे चिड़ियाघर लेकर नहीं गए
Santa : कल ले गया था। बहुत घूमे और बड़ा मजा भी आया! आज अक्षरधाम जा रहे हैं।
.
.
.
.
 भारतीय माता-पिता का सबसे प्रिय
डायलाग.. 
.
.
दिमाग तो बहुत है इसका, बस
पढाई पर ध्यान नहीं देता......

मजेदार हिंदी चुटकुले एवं जोक्स

मजेदार हिंदी चुटकुले एवं जोक्स  

आज पासवर्ड से मुलाकात हो गई













उसने अपने बच्चों से चाचा कहलवाया मामा नहीं

#सच्चा_प्यार
.
.
.
Today is World *WHISKEY DAY*
*Wishing all alcohol lovers very happy whisky day.*
In our life, problems may go from *Haywards 2000* to *Haywards 5000*, but we must take them as a *Royal Challenge*  otherwise people will call us *Old Monk* and put a *Black Label* on our name. So we must learn from *Teachers* to fight like *Jack Daniel*, live like a *Bagpiper*, walk like *Johny Walker*, work till *8 PM* & think like *Director Special*. Catch the ideas like *Kingfisher* and *Knockout* all the problems. Then life will be *Imperial*& we will become *Aristocrat* & there will be value for our *Signature* 
Cheers!
.
.
.
.
उसे आवारा कुत्ते ने काट लिया। पत्नी उसे लेकर अस्पताल पहुंची।
डॉक्टर ने इंजेक्शन लगाने के बाद कहा ,
' बस , आप कुत्ते पर नजर रखिएगा कि कहीं वह मर न जाए। '
डॉक्टर के कमरे से बाहर आकर पत्नी बोली ,
' देखा , मैं कहती थी न कि तुम्हारी इज्जत कुत्ते से भी गई बीती है।
डॉक्टर को भी कुत्ते की ही चिंता ज्यादा है..... ' :p
.
.
.
.

जब भी किसी दूल्हे की बारात देखता हूं...
-
तो मुझे "जीसस
काइस्ट्र" के अन्तिम वचन याद आते हैं...
-
-
"हे ईश्वर... इसे क्षमा करना...
ये नही जानता... ये क्या करने जा रहा है..!!"
.
.
.
.
 लडका: आई लव यू।
.
लड़की : अपनी शक्ल
देखी है क्या ?
.
लडका: देखी है तभी तो तुम्हारे
पास आया वरना कटरीना कैफ के पास न जाता।
.
.
.
.
 वर्कर खेलते है football ⚽⚽
मैनेजर खेलते है Tennis
सी. ई. ओ. खेलते है Golf ⛳⛳
मोरल :जितना आपका स्टेटस बढ़ता जाएगा उतनी आपकी बॉल छोटी होती जाएगी.
हमारी शख्सियत का अंदाज लगाओ *हमने तो बचपन से कंचे ही खेले हैं*
.
.
.
.
 एक शोध में पता चला है कि -
पुरूषों  को  दिल  के  दौरे  अक्सर रात में  इसलिये पड़ते हैं क्योंकि
औरतें  मेकअप उतार के सोती हैं!
.
.
.
.
.
मैं पानी को बोतल अपने बैग में रखना कभी नहीं भूलता । इतनी सर्दी में भी नहीं......
क्या पता..... ???

अगले किसी मोड़ पर.....
*मेरा कोई दोस्त हाफ लेकर खड़ा हो ।*

.
.
.
.
.
 पूरी दुनियां में
भारत ही एक मात्र ऐसा देश है
जहां
दीवारों पर
लिख के बताया जाता है
कि
.
.
.
.
.
.
.
"दीवार पे लिखना मना है...
.
.
.
.
आज का ज्ञान:
जब पाप का घड़ा भर जाये तो.
घड़ा हटाकर ड्रम लगा देना चाहिये।
 
 सुधरना नही है 

Friday, 24 February 2017

Jokes in Hindi


 कमीनापन आज कल इतना हो गया है कि...


लोग मंदिर में चप्पल भी ऐसी जगह उतारते हैं








जहाँ से भगवान भी दिखे और चप्पल भी।.
.
.
.

अब ये बताइये के इसमे से पागल कौन है...?
ग्राहक-एक कोलगेट देना.
दुकानदार  -कौन सा..?
ग्राहक -पेप्सोडैंट

.
.
.
Best i have ever read on
Kashmir situation
*उम्र जन्नत में रह कर, उसे उजाड़ने में गुज़ार दी,*
*और जिहाद बस इस बात की थी, की मरने के बाद जन्नत मिले...*
.
.
.
.
औरतों के जीवन का गोल्डन पिरीयड कौन सा होता है ??
Ans: 18 से 28 साल के बीच के 40 साल .
.
.
.
Kanpur...
In a Hyundai Showroom...
Salesman : Sir, ये देखिये Hyundai Verna...
Customer : (पान थूक के)
वरना का बे...
.
.
.
.

पति *अगर शासकीय शराब की दुकान* से शराब खरीदकर पीता है
और पत्नी उसे रोकती है,
तो उसे *'शासकीय कार्य में बाधा'* माना जाएगा ।।  
- *जनहित में जारी सूचना*
.
.
.
पत्नी : "आप ने कल बहुत अधिक शराब पी  रखी  थी.."
पति  : "नही  .कुछ ज्यादा .  नही पी थी."
पत्नी  : "फिर क्यों आप टपकते हुए नल के पास  बेठकर नल को बोल रहे थे .. 'रो मत सब ठीक हो जायेगा'.."
.
.
.
.
मैंने पूछा एक पल में जान,
कैसे निकलती है
उसने मजाक मजाक में
मेरा 2000 का नोट फाड दिया...
.
.
.
.
दोस्त हंसी-मजाक करने वाले होने चाहिए..
झंड करने के लिए तो साला पूरी दुनिया ही तैयार बैठी है बे.
.
.
.
. कहती थी तुम्हारे प्यार मे मैं हर दर्द सह
लूंगी...
मैंने भी चिमटा गरम कर के...हाथ पे लगा दिया...
.
.
.
.
.
दो दिन से बोलचाल बन्द है.

Thursday, 23 February 2017

Maha shiv ratri .... महाशिवरात्रि व्रत की प्रामाणिक और पौराणिक कथा


महाशिवरात्रि व्रत की प्रामाणिक और पौराणिक कथा

 
पूर्व काल में चित्रभानु नामक एक शिकारी था। जानवरों की हत्या करके वह अपने परिवार को पालता था। वह एक साहूकार का कर्जदार था, लेकिन उसका ऋण समय पर न चुका सका। क्रोधित साहूकार ने शिकारी को शिवमठ में बंदी बना लिया। संयोग से उस दिन शिवरात्रि थी। शिकारी ध्यानमग्न होकर शिव-संबंधी धार्मिक बातें सुनता रहा। चतुर्दशी को उसने शिवरात्रि व्रत की कथा भी सुनी।
शाम होते ही साहूकार ने उसे अपने पास बुलाया और ऋण चुकाने के विषय में बात की। शिकारी अगले दिन सारा ऋण लौटा देने का वचन देकर बंधन से छूट गया। अपनी दिनचर्या की भांति वह जंगल में शिकार के लिए निकला। लेकिन दिनभर बंदी गृह में रहने के कारण भूख-प्यास से व्याकुल था। शिकार खोजता हुआ वह बहुत दूर निकल गया। जब अंधकार हो गया तो उसने विचार किया कि रात जंगल में ही बितानी पड़ेगी। वह वन एक तालाब के किनारे एक बेल के पेड़ पर चढ़ कर रात बीतने का इंतजार करने लगा।

बिल्व वृक्ष के नीचे शिवलिंग था जो बिल्वपत्रों से ढंका हुआ था। शिकारी को उसका पता न चला। पड़ाव बनाते समय उसने जो टहनियां तोड़ीं, वे संयोग से शिवलिंग पर गिरती चली गई। इस प्रकार दिनभर भूखे-प्यासे शिकारी का व्रत भी हो गया और शिवलिंग पर बिल्वपत्र भी चढ़ गए। एक पहर रात्रि बीत जाने पर एक गर्भिणी हिरणी तालाब पर पानी पीने पहुंची।

शिकारी ने धनुष पर तीर चढ़ाकर ज्यों ही प्रत्यंचा खींची, हिरणी बोली- 'मैं गर्भिणी हूं। शीघ्र ही प्रसव करूंगी। तुम एक साथ दो जीवों की हत्या करोगे, जो ठीक नहीं है। मैं बच्चे को जन्म देकर शीघ्र ही तुम्हारे समक्ष प्रस्तुत हो जाऊंगी, तब मार लेना।'

शिकारी ने प्रत्यंचा ढीली कर दी और हिरणी जंगली झाड़ियों में लुप्त हो गई। प्रत्यंचा चढ़ाने तथा ढीली करने के वक्त कुछ बिल्व पत्र अनायास ही टूट कर शिवलिंग पर गिर गए। इस प्रकार उससे अनजाने में ही प्रथम प्रहर का पूजन भी सम्पन्न हो गया।

कुछ ही देर बाद एक और हिरणी उधर से निकली। शिकारी की प्रसन्नता का ठिकाना न रहा। समीप आने पर उसने धनुष पर बाण चढ़ाया। तब उसे देख हिरणी ने विनम्रतापूर्वक निवेदन किया- 'हे शिकारी! मैं थोड़ी देर पहले ऋतु से निवृत्त हुई हूं। कामातुर विरहिणी हूं। अपने प्रिय की खोज में भटक रही हूं। मैं अपने पति से मिलकर शीघ्र ही तुम्हारे पास आ जाऊंगी।' शिकारी ने उसे भी जाने दिया।

दो बार शिकार को खोकर उसका माथा ठनका। वह चिंता में पड़ गया। रात्रि का आखिरी पहर बीत रहा था। इस बार भी धनुष से लग कर कुछ बेलपत्र शिवलिंग पर जा गिरे तथा दूसरे प्रहर की पूजन भी सम्पन्न हो गई।

×
तभी एक अन्य हिरणी अपने बच्चों के साथ उधर से निकली। शिकारी के लिए यह स्वर्णिम अवसर था। उसने धनुष पर तीर चढ़ाने में देर नहीं लगाई। वह तीर छोड़ने ही वाला था कि हिरणी बोली- 'हे शिकारी! मैं इन बच्चों को इनके पिता के हवाले करके लौट आऊंगी। इस समय मुझे मत मारो।'

शिकारी हंसा और बोला- 'सामने आए शिकार को छोड़ दूं, मैं ऐसा मूर्ख नहीं। इससे पहले मैं दो बार अपना शिकार खो चुका हूं। मेरे बच्चे भूख-प्यास से व्यग्र हो रहे होंगे।'

उत्तर में हिरणी ने फिर कहा- जैसे तुम्हें अपने बच्चों की ममता सता रही है, ठीक वैसे ही मुझे भी। हे शिकारी! मेरा विश्वास करो, मैं इन्हें इनके पिता के पास छोड़कर तुरंत लौटने की प्रतिज्ञा करती हूं।

हिरणी का दुखभरा स्वर सुनकर शिकारी को उस पर दया आ गई। उसने उस मृगी को भी जाने दिया। शिकार के अभाव में तथा भूख-प्यास से व्याकुल शिकारी अनजाने में ही बेल-वृक्ष पर बैठा बेलपत्र तोड़-तोड़कर नीचे फेंकता जा रहा था। पौ फटने को हुई तो एक हष्ट-पुष्ट मृग उसी रास्ते पर आया। शिकारी ने सोच लिया कि इसका शिकार वह अवश्य करेगा। शिकारी की तनी प्रत्यंचा देखकर मृग विनीत स्वर में बोला- ' हे शिकारी! यदि तुमने मुझसे पूर्व आने वाली तीन मृगियों तथा छोटे-छोटे बच्चों को मार डाला है, तो मुझे भी मारने में विलंब न करो, ताकि मुझे उनके वियोग में एक क्षण भी दुःख न सहना पड़े। मैं उन हिरणियों का पति हूं। यदि तुमने उन्हें जीवनदान दिया है तो मुझे भी कुछ क्षण का जीवन देने की कृपा करो। मैं उनसे मिलकर तुम्हारे समक्ष उपस्थित हो जाऊंगा।'

मृग की बात सुनते ही शिकारी के सामने पूरी रात का घटनाचक्र घूम गया। उसने सारी कथा मृग को सुना दी। तब मृग ने कहा- 'मेरी तीनों पत्नियां जिस प्रकार प्रतिज्ञाबद्ध होकर गई हैं, मेरी मृत्यु से अपने धर्म का पालन नहीं कर पाएंगी। अतः जैसे तुमने उन्हें विश्वासपात्र मानकर छोड़ा है, वैसे ही मुझे भी जाने दो। मैं उन सबके साथ तुम्हारे सामने शीघ्र ही उपस्थित होता हूं।'

शिकारी ने उसे भी जाने दिया। इस प्रकार प्रात: हो आई। उपवास, रात्रि-जागरण तथा शिवलिंग पर बेलपत्र चढ़ने से अनजाने में ही पर शिवरात्रि की पूजा पूर्ण हो गई। पर अनजाने में ही की हुई पूजन का परिणाम उसे तत्काल मिला। शिकारी का हिंसक हृदय निर्मल हो गया। उसमें भगवद्शक्ति का वास हो गया।

थोड़ी ही देर बाद वह मृग सपरिवार शिकारी के समक्ष उपस्थित हो गया, ताकि वह उनका शिकार कर सके, किंतु जंगली पशुओं की ऐसी सत्यता, सात्विकता एवं सामूहिक प्रेमभावना देखकर शिकारी को बड़ी ग्लानि हुई। उसने मृग परिवार को जीवनदान दे दिया।

अनजाने में शिवरात्रि के व्रत का पालन करने पर भी शिकारी को मोक्ष की प्राप्ति हुई। जब मृत्यु काल में यमदूत उसके जीव को ले जाने आए तो शिवगणों ने उन्हें वापस भेज दिया तथा शिकारी को शिवलोक ले गए। शिवजी की कृपा से ही अपने इस जन्म में राजा चित्रभानु अपने पिछले जन्म को याद रख पाए तथा महाशिवरात्रि के महत्व को जानकर उसका अगले जन्म में भी पालन कर पाए।
शिव कथा का यह है संदेश

शिकारी की कथानुसार महादेव तो अनजाने में किए गए व्रत का भी फल दे देते हैं। पर वास्तव में महादेव शिकारी की दया भाव से प्रसन्न हुए। अपने परिवार के कष्ट का ध्यान होते हुए भी शिकारी ने मृग परिवार को जाने दिया। यह करुणा ही वस्तुत: उस शिकारी को उन पंडित एवं पुजारियों से उत्कृष्ट बना देती है जो कि सिर्फ रात्रि जागरण, उपवास एवं दूध, दही, बेल-पत्र आदि द्वारा शिव को प्रसन्न कर लेना चाहते हैं। इस कथा में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस कथा में 'अनजाने में हुए पूजन' पर विशेष बल दिया गया है। इसका अर्थ यह नहीं है कि शिव किसी भी प्रकार से किए गए पूजन को स्वीकार कर लेते हैं अथवा भोलेनाथ जाने या अनजाने में हुए पूजन में भेद नहीं कर सकते हैं।

वास्तव में वह शिकारी शिव पूजन नहीं कर रहा था। इसका अर्थ यह भी हुआ कि वह किसी तरह के किसी फल की कामना भी नहीं कर रहा था। उसने मृग परिवार को समय एवं जीवन दान दिया जो कि शिव पूजन के समान है। शिव का अर्थ ही कल्याण होता है। उन निरीह प्राणियों का कल्याण करने के कारण ही वह शिव तत्व को जान पाया तथा उसका शिव से साक्षात्कार हुआ।

परोपकार करने के लिए महाशिवरात्रि का दिवस होना भी आवश्यक नहीं है। पुराण में चार प्रकार के शिवरात्रि पूजन का वर्णन है। मासिक शिवरात्रि, प्रथम आदि शिवरात्रि, तथा महाशिवरात्रि। पुराण वर्णित अंतिम शिवरात्रि है- नित्य शिवरात्रि। वस्तुत: प्रत्येक रात्रि ही शिवरात्रि' है अगर हम उन परम कल्याणकारी आशुतोष भगवान में स्वयं को लीन कर दें तथा कल्याण मार्ग का अनुसरण करें, वही शिवरात्रि का सच्चा व्रत है। 

फेस बुक और व्हाट्सप्प के बाबत सत्य

बेहतरीन पोस्ट लोड करने और एक भी लाइक न मिलने पर , जब अर्जुन ने खिन्न होकर अपना मोबाइल नीचे रख दिया, तब श्री कृष्ण ने फेस बुक और व्हाट्सप्प के बाबत निम्न सत्य का ज्ञान उपदेश उसे दिये :

1. हे पार्थ !, जिन्हें तुम्हारे विचार अच्छे लगते हैं, वो बिना पढ़े ही तुम्हारी पोस्ट लाइक करेंगे ।

2. मुरलीधर कहते हैं, हे मोबाइल धर, कुछ महारथी तुम्हारी पोस्ट लाइक तो करेंगे, पर किन्ही कारण वश ग्रुप में दर्शा नही पाएंगे , ऐसे जातक तुम्हारी अन्य माध्यम से ज़रूर प्रशंसा करेंगे ।

3. देवकीनंदन सावधान करते हुए बोले , अनेक अस्थिर प्रवृत्ति के मानव, जो तुम्हे पसंद नहीं करते, वो किसी भी स्तिथि में तुम्हारी किसी भी पोस्ट को लाइक नहीं करेंगे ,चाहे पोस्ट उन्हें कितनी भी पसंद आई हो ।

4. प्रभु बोले , परंतु पार्थ, तुम लाइक , शेयर और कमेंट के इस मोह चक्र से अपने को सर्वथा अलग रखना , और सतत् निष्काम भाव से लिखते रहना । आनंद से भरे सर्वोत्तम मेसेज फॉरवर्ड करते रहो । इसी में तुम्हारा कल्याण है ।

5. अपने अंतिम श्लोक में प्रभु कहते हैं, हे अर्जुन,! अपना मोबाइल रुपी गांडीव ,हमेशा अपने साथ रखना, यही तुम्हे मेरे विश्व रूप का दर्शन हर समय कराता रहेगा ।

कल्याणम भवतु 👍

Hindi Chutkule


 अफसर: आप नौसेना में भर्ती होने आये है,और आपको तैरना नहीं आता?



पप्पू: तो क्या हुआ सर! जो वायुसेना में जाते है,उनहे उड़ना थोड़ी आता है
अफ़सर का अंतिम संस्कार कल हे.
.
.
.
.
डॉक्टर  - क्या तकलीफ है...?

मरीज  - सीने में बोहोत दर्द हो रहा है ।

डॉक्टर - सिगरेट पीते हो..?

मरीज - हा पर " गोल्ड फ्लैक" ही मंगवाना....
.
.
.
.
 पत्नी: तुम हर बात में मेरे मायके वालों को बीच में क्यों लाते हो?

जो बोलना हो सीधा मुझे बोला करो।

पति: देखो जब टीवी में कोईं खराबी आती है तो कोई टीवी को थोड़े ही बोलता है,

गाली तो कंपनी वाले ही खाते है ना।
.
.
.
.
 Boy = आपका नाम क्या है ?
. Girl = पूजा हज़ारिका और
आपका ?
Boy = पप्पू 500 का .
.
.
.
भोली भाली पत्नियों का सबसे सुंदर डायलॉग...

ये पीते नहीं हैं जी .....दरअसल  इनके दोस्त ही नालायक हैं ।


लेकिन उस बेचारी को क्या मालूम कि, अपना गंगाधर ही शक्तिमान है।.
.
.
.
Today's Special 

...पति और पत्नी का ज़ोरदार
झगड़ा होता है।
पति गुस्से से: तेरी जैसी 50
मिलेंगी।
.....
....
पत्नी हंसके:
अभी भी मेरी जैसी ही चाहिए!!!!!!
.
.
.
.
आज कल के  बच्चे भी ना

छोटा बच्चा :- पापा आपकी शादी हो गई?
पापा :- हां!
बच्चा :- किस से हुई?
पापा :- बेवकूफ तेरी मम्मी से!....
बच्चा :- वाह पापा घर में ही सैटिंग कर ली..!!

.
.
.
.
 इतनी नफरत भी ठीक नहीं, 
एक आदमी पैदल ही जा राहा था

मैंने बोला आओ बैठ लो..मेरी साईकिल पर 
तो वो बोला

"मैं बीजेपी से हूँ"  .
.
.
.
 *अखिलेश यादव ने अमिताभ बच्चन से पूछा है ...."की क्या गधों का भी विज्ञापन होता है"*

अभिताब बच्चन का जवाब....

*जो इंसान राहुल गांधी का प्रचार कर रहा हो, उसे ये पूछने का हक़ है क्या भाई??*.   .
.
.
.
आज मेने अपनी पत्नी से बोला कि मेरा दिल एक मोबाईल है और तुम उसकी सिम हो
.
.
.
पत्नि बोली : एक बात पूछूं आप से..??
मेने कहा: हां पूछो क्या बात है 
तो वो बोली: तुम्हारा मोबाईल डबल सिम वाला तो नही है ना..??
हद है यार  

Majedar Jokes in Hindi ...........


 SHAADI SEASON SPECIAL
इधर मेरी मुहब्बत किसी और की होने जा रही थी और उधर कुछ कमबख्त लोग कह रहे थे....
.
.
.
.
.
.
.
.
.
हलवा सही नही बना है..
.
.
.
.
 कस्टूमर केअर : गुड मॉर्निंग सर, एयरटेल में आपका स्वागत है, बोलिये मैंआपकी क्या सेवा कर सकती हूँ  ?
पप्पू : मेरे पड़ोस की पुष्पा का नंबर दे दो ।
.
.
.
.
 एक गाँव में शेर घुस गया।
पता है फिर क्या हुआ??????
जो काम सरकार सालों से नहीं कर सकी वो काम शेर ने 3 दिनों में कर दिया।
गाँव वालों की खुले में शौच जाने की आदत बदल गई।
("स्वच्छ भारत अभियान")
.
.
.
.
 लड़की वाले- हमें ऐसा लड़का चाहिए
जो कुछ खाता पीता ना हो, और कुछ
गलत काम ना करता हो।
.
.
.
.
.
पंडित- ऐसा लड़का तो आपको ICU में ही मिलेगा।
.
.
.
.
 डॉक्टर - तुम्हारा कान कैसे जला?
बंता - मैं कमीज प्रेस कर रहा था, कि फोन आ गया, मैंने जल्दी में फोन की जगह प्रेस को कान पर लगा लिया।
डॉक्टर- तो दूसरा कान कैसे जला?
बंता- अब एम्बुलेंस को भी फोन करना था ना।
.
.
.
.
 किसी ने ग़ालिब से पूछा:
"मोहब्बत शादी से पहले
करनी चाहिए या शादी
के बाद?!?"
ग़ालिब ने कहा:............
"कभी भी करो पर बीवी को
पता नहीं चलना चाहिए!"
.
.
.
.
 कांग्रेसी खटिया दे रहे है

भाजपाई 6000 ₹ दे रहे है ...
..
अब बस.... सपा- बसपा में जो लुगाई की व्यवस्था करेगा, समझ लो मेरा वोट उसी को मिलेगा !!!
.
.
.
.
पलट दूँगा सारी दुनिया मैं ए खुदा..
.
.
बस रजाई में से निकलने की  ताकत दे दे..
.
.
.
.
संता एक काला और एक सफ़ेद जुराब पहनकर स्कूल गया।
अध्यापक: घर जाओ और मोज़े बदलकर आओ।
संता: कोई फायदा नहीं वहां भी एक काला और एक सफ़ेद ही है।
.
.
.
.
 सिपाही:-  चल भाई ,
तेरी फाँसी का समय हो गया।
कैदी:-   पर   मुझे तो  फाँसी
20 दिन बाद होने वाली थी।
सिपाही:-  जेलर साहब कह कर गए हैं  कि " तू उनके गाँव का है ,
इसलिए तेरा काम पहले।

Wednesday, 22 February 2017

Jokes Rasele Chutkule


 शादी में सबसे बड़ा धोखा तो तब होता है ,
जब
गाय के गुण बताकर दूल्हे को
शेरनी थमा दी जाती है ...
.
.
.
.
 हरियाणा में एक दामाद
सर्दियों के दिनों में अपने
ससुराल गया, उसकी पत्नी का नाम
था दामो, और उसकी साली का नाम
था बदामो..... तो उस गांव में
रिवाज़ ये था कि दामाद
अपनी पत्नी से मिलना तो दूर आमने
सामने देख भी नहीं सकता था .
तो दामाद ने इशारे में
दो पंक्तिया कहीं कि
"उड़ता पंछी बोल रहया सै
अबकी पाला खूब पड़ेगा
दो-दो जणे मिल के सोइयो,
नहीं तै एक जरूर मरेगा "
सास समझ गई कि दामाद
क्या इशारा कर रहा है तो उसने
भी जवाब दिया
"दामो संग बादामो सोवेगी, और तेरे
संग तेरा साला
मैं बूढे संग पड़ी रहूगीं , के कर
लेगा पाला "
.
.
.
.
 *"मान भी जाओ"* से लेकर
*"भाड़ में जाओ"* तक का सफर ही
*शादी* है
बाकी तो सब मोह-माया है...!!!
.
.
.
.
 जिंदगी कब
"कल स्कूल में लड्डू मिलेंगे"
से
"कल तो ड्राई डे है"
तक पहुच गई पता ही नहीं चला।
.
.
.
.
 मुझे शराब से मोहब्बत नहीं है मोहब्बत तो उन पलो से है


जो शराब के बहाने मैं
दोस्तो के साथ  बिताता हूँ ..!!:
.
.
.
.
Santa बैंक में खाता खोलने गया ..
फॉर्म में एक सवाल था –
'इस बैंक में खाता खोलने की वजह ?'
Santa ने भी लिख दिया ,"आपकी खूबसूरत कैशियर||
.
.
.
.
*करुणानिधि* अकेले ऐसे जीवित मुख्यमंत्री है ....
जिन्होंने तमिलनाडु के 6 मुख्यमंत्रियों को श्रद्धांजलि दी है
करुणानिधि के जमाने के तो अब बरगद के पेड़ भी मर गये !!
पुरातत्व विभाग ने बताया ....
करुणानिधि भगवान से केवल २ साल छोटे हैं ।
.
.
.
.
नारी का मतलब है शक्ति
फिर पुरूष का मतलब क्या है़ ?


सहनशक्ति।
.
.
.
भारत में लोग परेशान रहते है कि नेता चुनावी वादे पूरे नहीं करते।
अमेरिका में लोग परेशान है कि ट्रम्प कहीं अपने चुनावी वादे पूरे न कर दे!
.
.
.
.
पुलिस विभाग की भर्ती चल रही थी।
उसमे मंत्री जी का साला भी भाग ले रहा था।.....स्वाभाविक था कि सब अपनी ओर से जो कर सकते थे करने का प्रयास कर रहे थे।
16oo मी.की रेस पूरी हुई।मंत्रीजी के साले ने 5.30 मिनट मे रेस पूरी की।
उप निरीक्षक ने लिस्ट बनाते समय 5 मिनट कर दिया....लिस्ट जब आफिस पहुची तो  अधिकारी ने सोचा  5 मिनट मे रेस पूरी की है उसने उसे 4.5 कर दिया।...इसी प्रकार लिस्ट
DSP.,S.P.,D.I.G. से होती हुई...
I.G के पास पहुंची तब तक समय 1.30 हो गया था।...I.G ने जैसे ही लिस्ट को देखा चौंक पडे़..उन्होने अपने P.A से पूछा...
"ये कौन है जिसने 1.30 मिनट मे रेस पूरी की.?"
P.A.बताया - सर, "मंत्री जी का साला है।"......
I.G बोले - "अबे वो सब तो ठीक है सालो..लेकिन विश्व रिकार्ड का तो ध्यान रखते.."

Tuesday, 21 February 2017

Jokes and Hindi Chutkule


  शिक्षक :-  शादी में वर - वधु को 7 फेरे क्यों लगवाये जाते हैं ????
छात्र :- क्योंकि प्रत्येक फेरा 360° का होता है.
और 360 ऐसी संख्या है जो 1 से 9 तक के अंको में केवल 7 से विभाजित नहीं होती. इसलिए 7 फेरो का सम्बन्ध अविभाज्य है.
इतनी खतरनाक गणित  शिक्षक कोमा में है
.
.
.
.
 Hi Level Technical Jokes: 
Scientists were playing hide & seek in heaven.
Einstein was seeker.
Newton didn't hide & stood in a square of 1 meter.
Einstein: I found u Newton !! Thhappa !!!
Newton: U are Wrong.
I am not Newton.
As I am standing in 1 mtr square, I am Newton/per mt sq.
So I am Pascal.. 
-------------------------
Q: What did the thermometer say to the graduated cylinder?
A: "You may have graduated but I've got so many degrees"  
------------------------
Did you hear oxygen and magnesium dating together?
OMg!!
------------------------
What if Oxygen went on a date with Potassium?
Its OK..
------------------------
Atom 1: I just lost an electron.
Atom 2:how u feel?
Atom 1: positive
------------------------
Q:What do you get when you put 2 iron atoms & cobalt in mixer
CoFFee
------------------------
What do you get after reaction of two sodium atoms with a Barium atom...
BaNaNa
------------------------
And finally ....
Can't end without a movie dialogue  
Electron to neutron : mere pass charge hai , spin hai, magnetic field hai, reactivity hai ... Tumhare pass kya hai
Neutron : mere pass..... MAAs hai  .
.
.
.
 In a Nursery School Canteen...
There's a basket of apples with a notice written over it :-)
"Do not take more than one, God is watching"
On the other counter there's a box of chocolates,
A small child went & wrote on it.
"Take as many as U want, God is busy watching the apples"...
NEVER ACT SMART WITH Today's Generation..!.!


KID :- Why some of ur hair are white dad...?
DAD : – Every time you make me unhappy , one of my hair turns white…
KID :- Now understand why grandpa's hairs are all white…
Moral :- Don't be over smart...



Child : Mummy why Gandhi has no hair on his head...?
Mummy : Because he speak only truth...
Child : Now I understud why ladies have long hair...
Now Ultimate
Teacher: How old is your father?
Kid: He is 6 years.
Teacher: What? How is this possible?
Kid: He became father only when I was born.
Logic!! 
Don't laugh alone, share with others
.
.
.
.
 एक राजा ने अपने जीजा की सिफारिश पर एक आदमी को मौसम विभाग का मंत्री बना दिया -  एक बार उसने शिकार पर जाने से पहले उस मंत्री से मौसम की भविष्य वाणी पूछी  - मंत्री जी बोले ज़रूर जाइए मौसाम कई दिनो  तक बहुत अच्छा है - राजा थोड़ी दूर गया था की रास्ते में कुम्हार मिला - वो बोला महाराज तेज़ बारिश आने वाली है कहाँ जा रहे हैं ? अब मंत्री के मुक़ाबले कुम्हार की बात क्या मानी जाती, उसे वही चार जूते मारने की सज़ा सुनाई और आगे बढ़ गये - वोही हुआ थोड़ी देर  बाद तेज़ आँधी के साथ बारिश आई और जंगल दलदल बन गया , राजा जी जैसे तैसे महल में वापस आए , पहले तो उस मंत्री को बर्खास्त किया , फिर उस कुम्हार को बुलाया - इनाम दिया और मौसाम विभाग के मंत्रिपद की पेशकश की - कुम्हार बोला हुज़ूर मैं क्या जानू मौसम वौसम क्या होता है वो तो जब मेरे गधे के कान ढीले हो कर नीचे लटक जाते हैं मैं समझ जाता हूँ वर्षा होने वाली है , और मेरा गधा कभी ग़लत साबित नहीं हुआ-राजा ने तुरत कुम्हार को छोड़ कर उसके गधे को मंत्री बना दिया -
तब से ही गधो को मंत्री बनाने की प्रथा चली आ रही है
.
.
.
.
.
*URGENT REQUIREMENT*
नए दोस्तो की जरुरत है
पुराने दोस्त बीवीयों के गुलाम हो गये है
.
.
.

एक युवक ने सिगरेट का पैकेट ख़रीदा !
चेतावनी लिखी थी – धूम्रपान नपुंसकता का कारण है !
वापिस दुकान पर गया "ये कौन सा पेकेट दे दिया भो** के ? वो केन्सर वाला दे"
.
.
.
.
पत्नी खाना खाते हुए पति से..
अजी जरा रसोई से नमक का डिब्बा तो ले आना!
पति देव रसोई में काफी देर ढूँढने के बाद आवाज लगाता है
यहाँ तो नमक का डिब्बा है ही नहीं!
पत्नी-
एक नम्बर के कामचोर हो, एक काम भी ढंग से नहीं कर सकते,
सारा दिन गप्पे हांकते रहते हो, मोबाइल के अलावा कुछ नही दिखता, ये फेसबुक किसी दिन हमारा तलाक़ करवाएगी..
दोस्तों के साथ आवारागर्दी, सारा दिन पड़ोसन पे नजर रखना, यही सब करते हो!
मुझे पता था तुम्हें नहीं मिलेगा, इसलिए पहले ही ले आई थी, आ जाओ और चुपचाप खाना खा लो।
पति  बेचारे को दंगल फिल्म का गाना याद आ गया..
"ऐसी धाकड़ है धाकड़ है"
.
.
.
.
 एक महिला ने एक दिन अपने पति का मोबाइल चेक किया तो.....
उसमें कुछ नंबर कुछ अलग ही ढंग से  Save किये हुए थे जैसे :-
आँखों का इलाज
होंठों का इलाज
दिल का इलाज
पत्नी ने गुस्से में अपना नंबर डायल किया.....
नाम आया
*ला-इलाज*
.
.
.
.
कुछ लोग Confusion में हैं कि होली 12 March की है या 13 की??
.
.
किसी पंडित के चक्कर में न पडें,
सीधे अपने नजदीकी शराब के ठेके पर जाएँ और पूछ लें...
"भैय्या ठेका किस दिन बन्द रहेगा"...