ad

Saturday, 30 December 2017

Hindi Chutkule ................. सुनो जी मैंने नये साल पर नयी ड्रेस ख़रीदी है


 This is a real story of three friends.
 *First* one was brilliant ,never would give up his first position in school . Topper in everything.
 *Second* one  was average , wouldn't fail but pushed to next class on a  regular basis.
 *Third* one was a trickster , a cheat and was an expert manipulator.
But these three were great friends , thick as thieves.
School was over  and after that 
 *The* *first* *one* , the brilliant guy as expected became an engineer.  He gave Indian engineering services exam, was chosen as class one officer. He became chief of Indian railways later.
 *Second* *one* graduated with Physics major and appeared for civil services exam  passed and was appointed as the head in the department where the first friend was working at lower level
 *Third* *one* didn't bother to study further after school, chose right party at the right time ,fought the election , won ,and became an MP , and later became a cabinet minister and under him was the department where two of his school friends were working.
This is not a fictional story.









 *First* *one* is *E* *Shridharan* .. *metro* *man.* 
 *Second* *one* is *TN* *Sheshan* chief of election commission.
 *Third* *one* is  *KP* *Unnikrishnan* who got elected five times continuously for lokasabha,and also became a cabinet minister during VP Sings time.
Three friends , same school,same teachers ,destiny chartered different  paths
Happiness quotient..???
.
.
.


विनोद खन्ना द्वारा लिखी गई आत्मकथा की खूबसूरत पंक्तियां .............. 
"जब मुझे पर्याप्त आत्मविश्वास मिला.... तो मंच खत्म हो चुका था.... जब मुझे हार का यकीन हो गया तब मैं जीता...... जब मुझे लोगों की जरूरत थी... उन्होंने मुझे छोड़ दिया.... जब रोते हुये मेरे आँसू सूख गए.... तो मुझे सहारे के लिए कंधा मिल गया.... जब मैंने नफरत की दुनिया में जीना सीख लिया... किसी ने मुझे दिल की गहराई से प्यार करना शुरु कर दिया.... जब सुबह का इंतजार करते करते मे सोने लगा... सूर्य निकल आया..... यही जिंदगी है... कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या योजना बना रहे हैं आप कभी भी नहीं जान पाते हैं कि जीवन आपके लिए क्या योजना बना रहा है... सफलता आपका दुनिया से परिचय कराती है और असफलता आप को दुनिया का....! इसलिए हमेशा खुश रहो!!
अक्सर जब हम आशा खो देते हैं और लगता है कि यह अंत है भगवान ऊपर से मुस्कराते हैं और कहते हैं कि...शांत रहो वत्स...यह सिर्फ एक मोड़ है अंत नहीं है..... अनंत है!!!
.
.
.
.
 मेरे  पास गाड़ी है, 
बंगला है, 
बैंक बैलेंस है 
और तो और माँ भी है...

बस दिमाग ही नहीं है..!!!
बताओ मै कौन...???
😎😋😜
.
.
.
.
.
 पप्पू – डाक्टर साब हमाओ इलाज कर दे|
डॉक्टर – तुम्हारा ये हाल कैसे हुआ?

पप्पू – छत पे धरी हती 500 ईँटे, सब नेंचे ल्याने हती ,

ऐसे 5-10 करके ल्याते तो परेशान हो जाते ।
सो हमने एक
उपाय सोचो ।

छत पे धरी हती एक टंकी,
टंकी मे भर दई 500 ईँटे,
फिर एक रस्सा बांद दओ
और कुन्दा मे फँसाकें रस्सा नेंचे लटका दओ ।

हमने नेंचे जाके रस्सा पकडो
सो टंकी नेंचे लटक
गई ।

अब टंकी 500 किलो की
और हम धरे 50 किलो के
सो टंकी सरसरात नेंचे आ रई और हम सरसरात ऊपर
जा रए।
कुंदा से सर फूट गओ

टंकी जैसई नेंचे गिरी
सो उको तल्ला खुल गओ
और
सब ईँटे बाहर कड़ गई।

अब टंकी बची 25 किलो की
और हम हते 50 किलो के,
सो हम सरसरात नेंचे आ रए
और टंकी सरसरात ऊपर
जा रई।
हम जैसई गिरे ईटो के ढेर पे

सो हमाई करहाई टूट गई।
और
हमाए हाथ से रस्सा छूट गओ

अब रस्सा सरसरात ऊपर जा रओ
और टंकी सरसरात नेंचे
आ रई
और गिरी हमाई मूड़ पे,
सो हमाई खपड़िया फूट
गई।

अब तुमई अच्छो करो डाक्टर साब ।

डॉक्टर साहब बेहोश

.
.
.
.
*ये तो बीबियों के ही चोंचले होते है*
*कि तुम्हारा फलाना दोस्त खराब है*
*तुम्हारे फलाने दोस्त में ये ऐब है*

*हमको तो उनकी सारी ही फ्रेंड पसन्द आती है*
😜😜😜😜
.
.
.
.
.
 *Why do they hesitate to serve alcohol to Punjabis in-flight*?

In an Aeroplane, after a series of 4-5 heavy drinks :

British : I will sleep now. 
American : I want to work on internet. 
German : I will watch movies now. 
Chinese : I will listen to music now.

*Punjabi: हूँण आपां प्लेन चालावांगे.....* 
🙄😳😝😂
.
.
.
.
.
Biwi: सुनो जी मैंने नये साल  पर नयी ड्रेस ख़रीदी है,  ये पुराने कपड़े डोनेट कर देते है।

Husband: फेंक दे, क्या डोनेट करना?

Biwi: नहीं जी बहुत सी ग़रीब, भूखी प्यासी औरतें है , कोई पहन लेगी।

Husband: तेरे कपड़े जिसको आ जाए वो भूखी प्यासी तो हो नहीं सकती।

Husband अब घर से फरार है।

😜😇😎
.
.
.
.
.
अंग्रेज़ी की आत्मा जल कर राख हो गई जब पेपर मेँ पूछा गया कि.. 

"सन्तोष आम खाता है"
इस वाक्य को अंग्रेज़ी में लिखो 

जवाब में किसी ने लिखा 
satisfaction is a general account.

😕😟😝😂
.
.
.
.
 Punjabi explanation 

I thought I knew English until I heard my neighbour explaining the difference between Email and Gmail,
(1)Email - the mails which are sent using Electricity
(2)Gmail -the mails which are sent using a Generator
😂😜🤣😅.
.
.
.
.
 देखिये हिन्दी किस तरह से हमारी ऊर्जा व समय बचाती है​​ 

​In English:-​

I am sorry, I can not hear u properly, can you please repeat what is the matter ???!!!

​हिन्दी में...​

                     ​"" *आंय* ""​

😂😂😂

Friday, 29 December 2017

आज रात 11:30 बजे एडमिन करेंगे मन की बात, 31 दिसम्बर की पार्टी के बारे में कर सकते हैं, बडा ऐलान........ New Hindi Jokes


 A classic joke👌
A kid asked a priest:
"Father, besides praying do you have any other pass-time?" 
The priest tapped the kids cheek & calmly replied:
"Nun my child, Nun".
😉😂
.
.
.
.
.
 कल रात खली से मेरी कुश्ती हो गयी और उसने मुझे पटक पटक के  बहुत मारा , मगर अंत में moral victory
मेरी ही हुई , क्योंकि मुझे मारते मारते उसके हाथ में दर्द हो गया .

disclaimer --इस गप्प का गुजरात चुनाव से कोई सम्बंध नहीं है.
.
.
.
.
.
 I was mugged by a thief last night on my way home. 

Pointing a knife at me ... 
He asked me 
"your money or your life!"

I told him I am Married... and also a Doctor in India........ 
so I have 
No money and No life...

We hugged and cried together. 

It was a beautiful moment...😁😄
.
.
.
.
.
.
 My friend texted me - "Should we go out for a *Coffee* to-night ?"
Me - Yaar teri English Ki bahut problem hai...
My friend - Woh kaise ?😱
Me - Yaar tune *दारु* Ki spelling hi galat likhi hai...😄
.
.
.
.
.
 *दिल्ली सिटी बस मे मैं आराम से बैठा हुआ था तभी एक खूबसूरत सी लड़की आई और बोली आप यहाँ से उठिये यह महिला सीट है।*

*मैं यह कहते हुए उठ गया कि आप महिला हैं मैं लड़की समझ रहा था*

*कसम से पूरा रास्ता सीट खाली रही पर लड़की बैठी नही*
.
.
.
.
.
.
 मित्रो , परिणाम छोड़ो ।

मनोरंजन में कोई कमी हो तो बताओ।

*- आपका राहुल गांधी ।।*
😂😂😜😜😂
.
.
.
.
.
.
 ऐसी मशीन बनाऊंगा की
,
,
,
,
,
,
,
,
,
,
,
,
इधर से बेरोजगार घुसेगा उधर से सीधे रिटायर होके निकलेगा।...

वैज्ञानिक का नाम तो आप जानते ही होंगे😂😋
.
.
.
.
.
.
😄😉
श्रीमती जी की रात के दो बजे अचानक नींद खुली तो पाया कि पति बिस्तर पे नहीं हैं।

जिज्ञासावश उठीं, खोजा, तो देखा 
डाइनिंग टेबल पर बैठे पति कॉफी का कप हाथ में लेकर, विचारमग्न, दीवार को घूर रहे हैं।

पत्नी चुपचाप पति को कॉफी की चुस्की लेते हुए बीच-बीच में आँख से आँसू पोंछते देखती रही।

फिर पति के पास गई और बोली, "क्या बात है, डियर? तुम इतनी रात गए, यहाँ क्या कर रहे हो..?"

पति ने कॉफी से नज़र उठाई। 
"तुम्हें याद है, 14 साल पहले जब तुम सिर्फ 18 साल की थीं?"
पति बड़ी गम्भीरता से बोला..।

पत्नी, पति के प्यार को देख कर भाव विभोर हो गई, 
बोली, "हाँ, याद है..।"

कुछ रुक कर पति जी बोले "याद है जब तुम्हारे जज पिता जी ने हमें मेरी कार में घूमते हुए देख लिया था" । 
पत्नी "हाँ हाँ.. याद है..।"

याद है? कैसे उन्होंने मेरी कनपटी पर बन्दूक रख कर कहा था,
"या तो इस से शादी कर लो, नहीं तो 14 साल के लिए अन्दर कर दूँगा..।"

"हाँ.. हाँ.. वह भी याद है।"

अपनी आँख से एक और आँसू पोंछते हुए पति बोला.. "
"आज मैं छूट गया होता...!!"

Dedicate to All Married Friends.
😉😊😊😛😜👌
.
.
.
.
.
 अगर आपके पास प्यार करने वाला परिवार

कुछ अच्छे दोस्त

खाने को रोटी और रहने को एक छत है

और

दो किलोमीटर  तक कोई कांग्रेसी या बीजेपी भक्त पडोसी नहीं है

तो आप दुनिया के सबसे सुखी इन्सान हैं

💁🏻‍♂🚶🏾‍♀🚶🏾‍♂🏃🏿‍♀
.
.
.
.
.
 🅱REAKING NEWS :

आज रात 11:30 बजे एडमिन करेंगे मन की बात,

31 दिसम्बर की पार्टी के बारे में कर सकते हैं, बडा ऐलान..

🤗👬🤔👬💃🏻💃🏻👬🤔👬🤗

Tuesday, 19 December 2017

भगत सिंह वाह रे भगत सिंह ................. Bhagat Singh and Bebe


भगत  सिंह वाह रे भगत सिंह 




शहीद भगत सिंह की बैरक की साफ-सफाई करने वाले 'भंगी' का नाम बोघा था।
भगत सिंह उसको बेबे (मां) कहकर बुलाते थे।
जब कोई पूछता कि भगत सिंह ये भंगी बोघा तेरी बेबे कैसे हुआ ?
तब भगत सिंह कहता, "मेरा मल-मूत्र या तो मेरी बेबे ने उठाया, या इस भले पुरूष बोघे ने।
बोघे में मैं अपनी बेबे(मां) देखता हूं। ये मेरी बेबे ही है" 
यह कहकर भगत सिंह बोघे को अपनी बाहों में भर लेता।
भगत सिंह जी  अक्सर बोघा से कहते,
"बेबे मैं तेरे हाथों की रोटी खाना चाहता हूँ।"
पर बोघा अपनी जाति को याद करके झिझक जाता
और कहता-
"भगत सिंह तू ऊँची जात का जाट_सरदार,
और मैं एक अदना सा भंगी, 
भगतां तू रहने दे, ज़िद न कर।"

सरदार भगत सिंह भी अपनी ज़िद के पक्के थे,
फांसी से कुछ दिन पहले जिद करके उन्होंने
बोघे को कहा "बेबे अब तो हम चन्द दिन के मेहमान हैं, अब तो इच्छा पूरी कर दे!"

बोघे की आँखों में आंसू बह चले। रोते-रोते उसने खुद अपने हाथों से उस वीर शहीद ए आजम के लिए रोटिया बनाई, और फेर अपने हाथों से ही खिलाई।
और मित्रो भगत सिह के मुंह में रोटी का गास डालते ही बोघे की रुलाई फूट पड़ी।
"ओए भगतां, ओए मेरे शेरा, धन्य है तेरी मां, जिसने तुझे जन्म दिया।
भगत सिंह ने बोघे को अपनी बाहों में भर लिया।
ऐसी सोच के मालिक थे अपने वीर सरदार भगत सिंह जी....
परन्तु आज की  गन्दी सियासत ने जाति के नाम पर बाँटकर रख दिया उस महान शहीदे आजम के इस देश को,
मित्रो क्या सच मे हम लोग इतने बेईमान हो गए  
हे ईश्वर मेरे इस मुल्क को सदबुद्धि देना, इसकी रक्षा करना !


जय हिन्द

इंकलाब जिंदाबाद....

Monday, 11 December 2017

Hindi chukule .............. विवाहित पुरुषों द्वारा बोला जाने वाला सबसे बड़ा झूठ


 😆😀😜🤣विवाहित महिलाओं द्वारा बोला जाने वाला सबसे बड़ा झूठ :~

💁🏼इनसे पूछना पड़ेगा 🤣
.
.
.
.
.
.
😃😝😂🤣और विवाहित पुरुषों द्वारा बोला जाने वाला सबसे बड़ा झूठ :~

💁🏻‍♂उससे क्या पूछना 🤣
.
.
.
.
.
.
 शादी मे (buffer) खाने में वो आनंद नहीं जो पंगत में
आता था जैसे....  
👉 पहले जगह रोकना !
👉 बिना फटे पत्तल दोनों का सिलेक्शन!
👉 उतारे हुयें चप्पल जूतें
पर आधा ध्यान रखना...!
👉 फिर पत्तल पे ग्लास रखकर उड़ने से रोकना!
👉 नमक रखने वाले को जगह बताना
यहां रख नमक
.
सब्जी देने वाले को गाइड करना
हिला के दे
या तरी तरी देना!
.
👉 उँगलियों के इशारे से 2 लड्डू और गुलाब जामुन,
काजू कतली लेना
.
👉 पूडी छाँट छाँट के
और
गरम गरम लेना !.
👉 पीछे वाली पंगत में झांक के देखना क्या क्या आ
गया !
अपने इधर और क्या बाकी है।
जो बाकी है उसके लिए आवाज लगाना
.
👉 पास वाले रिश्तेदार के पत्तल में जबरदस्ती पूडी
🍪 रखवाना !
.
👉 रायते वाले को दूर से आता देखकर फटाफट रायते
का दोना पीना ।
.
👉 पहले वाली पंगत कितनी देर में उठेगी। उसके
हिसाब से बैठने की पोजीसन बनाना।
.
👉 और आखिर में पानी वाले को खोजना।
 😜 ____________________________
जब बचपन था, तो जवानी एक ड्रीम था...
जब जवान हुए, तो बचपन एक ज़माना था... !! ____________________________
जब घर में रहते थे, आज़ादी अच्छी लगती थी...
आज आज़ादी है, फिर भी घर जाने की जल्दी रहती है... !!
____________________________
कभी होटल में जाना पिज़्ज़ा, बर्गर खाना पसंद था...
आज घर पर आना और माँ के हाथ का खाना पसंद है... !!!
____________________________
स्कूल में जिनके साथ ज़गड़ते थे,
आज उनको ही इंटरनेट पे तलाशते है... !!
____________________________
ख़ुशी किसमे होतीं है, ये पता अब चला है...
बचपन क्या था, इसका एहसास अब हुआ है...
____________________________
काश बदल सकते हम ज़िंदगी के कुछ साल..
.काश जी सकते हम, ज़िंदगी फिर एक बार...!!
____________________________
जब हम अपने शर्ट में हाथ छुपाते थे और लोगों से कहते फिरते थे देखो मैंने अपने हाथ जादू से हाथ गायब कर दिए
|
____________________________
✏जब हमारे पास चार रंगों से लिखने वाली एक पेन हुआ करती थी और हम सभी के बटन को एक साथ दबाने की कोशिश किया करते थे |
____________________________
जब हम दरवाज़े के पीछे छुपते थे ताकि अगर कोई आये तो उसे डरा सके..
____________________________
जब आँख बंद कर सोने का नाटक करते
थे ताकि कोई हमें गोद में उठा के बिस्तर तक पहुचा दे |
____________________________
सोचा करते थे की ये चाँद हमारी साइकिल के पीछे पीछे क्यों चल रहा हैं |
____________________________
On/Off वाले स्विच को बीच में
अटकाने की कोशिश किया करते थे |
____________________________
फल के बीज को इस डर से नहीं खाते थे की कहीं हमारे पेट में पेड़ न उग जाए |
____________________________
बर्थडे सिर्फ इसलिए मनाते थे
ताकि ढेर सारे गिफ्ट मिले |
____________________________
फ्रिज को धीरे से बंद करके ये जानने की कोशिश करते थे की इसकी लाइट कब बंद होती हैं |
____________________________
सच , बचपन में सोचते हम बड़े
क्यों नहीं हो रहे ?
और अब सोचते हम बड़े क्यों हो गए ?
____________________________
ये दौलत भी ले लो.. ये शोहरत भी ले लो
भले छीन लो मुझसे मेरी जवानी...
मगर मुझको लौटा दो बचपन का सावन ....
वो कागज़ की कश्ती वो बारिश का पानी..
.
.
.
.
.
.
.
जैसा माहौल चल रहा है उसे देख कर लग रहा है कि 2019 तक बस यही 3 विकल्प रह जाएंगे देशवासियों के पास 😉
.
.
.
B - भाजपा
J - जिओ
P - पतंजलि

😂😂😂😂😂
.
.
.
.
.
 जब भगवान राम ने लंका की लड़ाई में रावण के परिवार का नाश कर दिया 😛
तो 
,
रावण के परिवार की 'मृत आत्मायें' भगवान राम के पासआईं और बोलीं, "प्रभु!!!" 

😇😇😇😇😇😇😇😇😇

आपने हमारा पूरा वंश नाश कर दिया है, 
⛓⛓⛓⛓⛓⛓⛓⛓⛓

कम से कम ये तो बता दो कि हम ऐसा 'तांडव' दोबारा कब कर पायेंगे?


🔊🔊🔊🔊🔊🔊🔊🔊🔊

तब प्रभु राम बोले, कि 'कलियुग' में
आप हमारे अयोध्या राज्य के 'सैफई' नामक ग्राम में जन्म लोगे, 
😘😘😘😘😘😘😘😘😘
और 
,
'रावण' की ओर इशारा करते हुये कहा:- आपका नाम मुलायम होगा
 और 
आप राज्य के मुख्यमंत्री  होंगे। 
,
तभी 'कुम्भकरण' बोले, प्रभु ! मेरा क्या नाम होगा?
💁💁💁💁💁💁💁💃💃💃💃💃💃
तब 

प्रभु राम ने कहा:- कि आपको लोग 'शिवपाल' के नाम से जानेंगे   
और 
आप हमेशा राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त करेंगे। 
🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲
तभी 'मेघनाथ' मुस्कराते हुये आगे बढ़े और बोले,प्रभु! मैं तो 'युवराज' हूँ !
😊😊😊😊😊😊😊😊😊
तब प्रभु! राम ने कहा तुम तब भी युवराज ही रहोगे और तुम्हारा नाम 'अखिलेश' होगा और तुम सन् २०१२ में जनता को 'मूर्ख' बनाकर धोखे से राज्य के 'मुख्यमंत्री' बनोगे और तुम इस वंश के आखिरी शाषक होंगे।

💖💖💖💖💖💖❤❤❤
 ये सब कहकर जब प्रभु! राम वापस जाने लगे तभी सूपनखा उनके पास आयी और बोली, "प्रभु। 

🐾🐾🐾🐾🐾🐾🐾🐾🐾
आपने मेरे संपूर्ण परिवार का नाश कर दिया। 
अब मेरा क्या होगा?" 
😇😇😇😇😇😇😇😇😇
भगवान राम बोले, "तुम भी कलियुग में मेरी अयोध्या पर राज करोगी।
,
 उस समय तुम्हारा नाम मायावती होगा परन्तु विवाह तुम्हारा तब भी नहीं होगा।" 
,
तभी मायावी मारीच बोला मेरा क्या होगा प्रभू 
😘😘😘😘😘😘😘😘😘
प्रभू बोले...
तुम तब भी मायावी, ड्रामेबाज़ , धोखेबाज़ रहोगे 🌱🌱🌱🌱🌱🌱🌱🌱🌱

लोग तुम्हें केजरीवाल के नाम से जानेंगे👍
तब विभीषण पुछे आप किस रूप मे आयेंगे प्रभू

मै कलयुग मे नरेन्द्र मोदी के रूप मे और योगी आदित्य नाथ हनुमान के रूप में आयेंगे  और सबका सम्पूर्ण  नाश करेंगे ।
😛😛😛😛😛😛
.
.
.
.
.
आज के टाइम में सुखी वही है*

जिसे लेटते ही 5 मिनट में नींद आ जाये,

और बैठते ही 2 मिनट में पेट साफ हो जाये

*बाक़ी सब तो मोह माया है"।*

😉😜😎
.
.
.
.
.
 अगर मैं पद्मावती होती तो कभी जौहर नही करती..... मायावती😡
सुसरी शक्ल देख अपनी😜,अगर तू पद्मावती होती तो खिलजी खुद ही  जौहर कर लेता😂🤣🤣
.
.
.
.
.
😄😄
हजारो सालो में एक बार बनता है ये शुभ योग कही रह न जाये आप....

आज रात को मध्य रात्रि 3 बजे ,, ऐसा शुभयोग बन रहा है कि अगर  चन्द्रमा की रौशनी मे ,, 3 बालटी ठन्डे जल से स्नान करें तो  मोक्ष की प्राप्ति होगी ।।

   🙏😊मेरे पडोसी बता रहे थे।😊🙏
.
.
.
.


बुन्देलखन्ड की मौड़ी ने स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर को फोन पर अपनी समस्या बताई डॉ साब हमाई उमर 19 साल है हमाई स्किन भोतइ सॉफ्ट और सेंसिटिव है और हमाओ रंग एक दम  गोरो- चट धरो है, तो हम रात में का लगा के सोयें ? 
--
--
डॉक्टर- 🚪किवार।

☝🏻😜

Tuesday, 5 December 2017

Hindi jokes ................ तुम्हारी नशीली आँखें


 पार्क के सूचनापट पर एक सुविचार लिखा था...

"पेड़ पर अपनी माशूका का नाम लिखने से बेहतर है उसके नाम पर एक पेड़ लगायें"
...

बात दिल को लग गई... 

...गर्लफ्रेंड्स की गिनती की... और आखिर मे 1 बीघा  ज़मीन लेकर गन्ना बो डाला।😝😝
.
.
.
.
 "दूध वाले ने एक औरत को साइकिल से टक्कर मार दी

महिला (गुस्से में ) – दिखता नहीं क्या, अंधे ??

दूधवाला – मेडम, सॉरी आज सुबह से आप तीसरी सुंदर महिला है जिसे हमारी साइकिल से टक्कर लगी है।

महिला इतराते हुए - ओह्हो कोई बात नहीं,
वैसे तीनो मे सबसे सुन्दंर कौन थी?
दुधवाला:- जी आप

महिला- सुनो.......
तुम्हे चोट तो नही लगी
😂😂😂
.
.
.
.
.
 पादते सभी हैं इसलिए 

आज आपके लिये पादने पर एक शोध चुरा कर लाया हूँ :-

1. जब पाद बॉडी में बनकर तैयार होता है तो उस समय इसका तापमान 98.6°F होता है।

2. पाद में आग लग सकती है यह ज्वलनशील होता है।

3. नहाते समय पाद में से ज्यादा बदबू इसलिए आती है क्योंकि हमारी नाक नमी में अच्छे से काम करती है।

4. पाद, 59% नाइट्रोज़न, 21% हाइड्रोज़न, 9% काॅर्बनडाई-ऑक्साइडस, 7% मिथेन, 3% ऑक्सीज़न और 1% अन्य बकवास चीजों से मिलकर बना होता है।

5. पादने से आपका BP कंट्रोल में रहता है और ये आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है।

6. पाद रोकना आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है क्योंकि कई बार ये गैस दिमाग में जाकर सिरदर्द का कारण बनती है. जो पाद रोक लिया जाता है वह नींद के समय पक्का निकलता है।

7. ब्लू व्हेल के पादने पर जो बुलबुला बनता है वह इतना चौड़ा होता है कि उसमें एक घोड़ा आ सकता है।

8. पृथ्वी पर मौजूद सभी जीव-जंतुओं में सबसे ज्यादा पाद दीमक (termites) मारता है। यह गाय से भी ज्यादा मिथेन छोड़ता है।

9. मध्य युग में लोग पाद को जार में बंद करके सूंघते थे. उनका मानना था कि ऐसा करने से मौत से बचा जा सकता है।

10. कुत्तों के अंदर इतनी क्षमता होती है कि ये पाद भी देख सकते है।

11. एक आम इंसान दिन में लगभग 14 बार पादता है और अपनी पूरी जिंदगी में लगभग 402,000 बार.

12. आपके पाद निकलने की स्पीड 10ft/sec होती है. यह केक पर लगी मोमबत्ती आसानी से बुझा सकता है।

12. ऐसी दवाईयाँ भी आती है जिसे खाने पर आपके पाद में से गुलाब और चाॅकलेट जैसी खूशबू आएगी। like: father christmas.

14. जो पाद अधिक मात्रा में nitrogen और co2 से मिलकर बने होते है उनमें से बदबू नही आती लेकिन ये आवाज बहुत ज्यादा करते है। पादते समय आप उस जगह को जितना ज्यादा टाईट करोगे उतनी ज्यादा आवाज आएगी।

15. इंसान को सबसे ज्यादा पाद फलियां (beans) खाने के बाद आते है। मूंगफली खाकर पादने से बदबू भी निकलती है। 

16. फ्लोरिडा में 13 साल के लड़के को स्कूल से बहुत अधिक पादने के कारण गिरफ्तार कर लिया था।

17. अंतरिक्ष मे जाने वाले यात्री पाद नही सकते, क्योंकि वहाँ पेट में द्रव्य से गैस को अलग करने के लिए गुरूत्वाकर्षण बल ही नही है।

18. आपके पाद में से बदबू आने का कारण उसमें मौजूद 1% से भी कम Hydrogen Sulfide होता है।

19. यदि कोई इंसान 6 साल 9 महीने तक लगातार पाद मारें तो एटम बम जितनी एनर्जीं प्रोड्यूस कर सकता है।

20. चिम्पेंजी इतनी जोर से लगातार पादते है कि वैज्ञानिक इनके पाद को फाॅलो करके इन्हे जंगल में ढूंढ लेते है।

21. यदि आपको ऐसे चैम्बर में डाल दिया जाए जिसमें पूरे तरीके से आपका पाद भरा हो, तो भी आपकी दम घुटने से मौत नही होगी।

22. हवाई यात्रा के समय लोग ज्यादा गैस (पाद) छोड़ते है इसलिए जहाजों में बदबू कम करने के लिए चारकोल फिल्टर का इस्तेमाल किया जाता हैं।

23. इंसान का मरने के 3 घंटे बाद तक भी पाद आ सकता है।

24. धरती पर मौजूद सभी इंसान एक साल में लगभग 17,000,000,000,000,000 पाद मारते है।

25. पाद और potty के बीच अंतर बनाने का काम नर्व करती है. लेकिन कई बार यदि potty बहुत पतली हो जाए तो ये नर्व कंफ्यूज हो जाती है और पाद के साथ थोड़ी बहुत potty भी निकल जाती है।

पढते_रहो_पादते_रहो 
😂😂😂😂😂😂
.
.
.
.
 लड़का पजामे में 12 बोर का तमंचा लगा कर नाच रहा था कि अचानक......तमंचा चल गया। 

गोटिया तो बच गयी पर औजार में आधा दर्जन छेद हो गए |

डॉक्टर - इलाज के अगले चरण के लिए तुम्हे भास्कर से मिलना होगा |

लड़का - क्या भास्कर और बड़े डॉक्टर हैं?

डॉक्टर - नहीं बाँसुरी बजाते हैं। वो तुम्हें सिखा देंगे की मूतते हुए किस किस छेद पर  उँगलियाँ रखनी हैं ...
😜😂😜😂😜😂
.
.
.
.
🍾 दारू पीने से पहले जो गिलास में उंगली डुबो कर, दो बूंद नीचे गिराई जाती है...*

*उसे शराबियों के ग्रन्थ में संस्कार कहा गया है।*

*DRINK* शब्द का एक -एक Alphabet एक -एक पेग के असर को देख कर बनाया गया हैं.

1. यदि *🥃 एक पेग* लेते है तो वो *Digestion (पाचन)* के लिए ठीक हैं, इसलिये उसका "D" लिया गया

2. यदि 🥃 *दूसरा पेग* लेते है तो वो *Relaxation (विश्राम)* के लिए ठीक हैं, इसलिये उसका "R" लिया गया

3. यदि 🥃 *तीसरा पेग* लेते है तो वो आपको *Intelligent ( बुद्धिमान )* बना देता हैं, इसलिये उसका "I" लिया गया

4. यदि 🥃 *चौथा पेग* लेते है तो वो आपको बातों से *Naughty* बना देते हैं, इसलिये उसका "N" लिया गया

5. यदि 🥃 *पांचवा पेग* लेते है तो वो आपको *King (राजा )* बना देता हैं, इसलिये उसका "K" लिया गया हैं

इस तरह बना है DRINK ...🍾

*सभी " दारूभक्तों" को श्रद्धापूर्वक समर्पित।*🍺🍺🍺🍺🍺
.
.
.
.
.
📟
क्या आपने कभी...
VCR  किराए पर लाकर...
रात भर फिल्में देखी है..?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
TV channels को...
गोल बटन से...
घुमा-घुमा के...
चेंज किया है..?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
📻
Tape recorder के...
cassette को...
pencil से घुमा-घुमा के...
reverse किया है?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
Telephone के...
गोल dial को...
घुमा-घुमा के...
नम्बर मिलाया है..?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
🔊
हसन जहांगीर का...
"हवा हवा ऐ हवा" सुना है..?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
📺
Doordarshan पर चित्रहार देखा है?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
अगर इन सारे सवालों का जवाब 'हाँ' में है तो...
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
आप बूढ़े हो चुके हैं!!!!
👴
नमस्कार..!
🙏
.
.
.
.
.
 इसे कहते हैं स्मार्ट पति😎*:-

पति-पत्नि में झगड़ा हो रहा था।

पत्नि: मैं पूरा घर संभालती हूँ.. किचन संभालती हूँ.. बच्चों को संभालती हूँ.. तुम क्या करते हो ?

पति: मैं खुद को संभालता हूँ.... तुम्हारी नशीली आँखें देखकर..

बीवी: आप भी ना ....चलो बताओ आज क्या बनाऊँ आपकी पसंद का 😂😂😂😂

सुखी संसार के सूत्र😂🙏
.
.
.
.
: ज़िन्दगी का सबसे बड़ा चुना लगाने वाला वाक्य.....😳😳😳
.
.
.
.
.
.
गाड़ी की चाबी दे यार... बस 2 मिनट में आता हु।।😂😂😂
.
.
.
.
.
*!!.अब तसल्ली है.!!*
!!.PM भी सिंगल.!!
!!.CM भी सिंगल.!!
!!.TATA भी सिंगल.!!
!!.BATA भी सिंगल.!! 
!!.KALAM भी सिंगल.!!
!!.SALMAN भी सिंगल.!!
!!.RAHUL भी सिंगल.!!
!!.YOGI भी सिंगल.!!
और तो और BABA
!!.RAMDEV भी सिंगल.!!
निगाहें अब उस हरामखोर को ढूंढ रही हैं..
जिसने यह कहा था हर सफल आदमी के पीछे एक औरत का हाथ होता है।
*उस बेवकूफ आदमी के चक्कर में हमने भी शादी कर ली है*
वर्ना आज हम भी कही कुछ कर गए होते😡😡😡😡😩😩
.
.
.
.
.
गाड़ी पर लिफ्ट लेने के बाद कुछ प्रतिक्रियाएं :

पंजाबी - ओए थैंक्स यार् !
मराठी - लई आभार मित्रा !
मद्रासी -रोम्बा थैंक्स सार !
बंगाली - ओनेक धोन्योबाद बंधु!....
.
.
.
.
कनपुरिया - रोज यईं से जात हो का गुरु?

कल्याण का हॉस्पिटल तो तोड़ दिया; अब हिम्मत है तो एक खिडकी तोड़ के दिखाओ Fortis Hospital की!


Holy Cross Hospital vs Fortis Hospital: Dear society, You will get what you deserve!  

Article by ©Dr Swapnil Kumar Kale for DoxBay

Once you have beaten up all the doctors in the country and broken all their small clinics into pieces, this is what you will be left with - corporate hospitals that charge you lakhs per hour! 

कल्याण का हॉस्पिटल तो तोड़ दिया; अब हिम्मत है तो एक खिडकी तोड़ के दिखाओ Fortis Hospital की!

A 500 strong crowd broke Holy cross hospital into pieces when a 22 year old died of MI. The losses incurred due to the damages could be little less than a crore. But the biggest thing that these people destroyed was the doctors' moral courage! The situation was almost similar to a riot and police did nothing. The most significant thing police did was to delete the pics and videos of the assaulters from doctors' phones.  

Attacking doctors and vandalizing clinics have turned into an epidemic today with all the politicians, govt, media and the society ganging up together with one motive – "Tame the doctor, make him work 24x7 for free and force him to accept that he is God!" Slowly and silently doctors are giving up, moving to other countries; small clinics closing down; no new generation kids wanting to become doctors. Let this epidemic continue for decade and you will see no "good" doctor left to treat you because you have beaten the shit out of them already. There will be no small clinics around that you can afford, as you vandalized all of them already! Only thing you will see when you fall sick will be the corporate hospitals that charge you just like the Fortis kid.

The 'Dengue kid' died in Fortis Hospital and media went into frenzy for weeks with the melodramatic stories of how the hospital has exorbitantly charged the family. Did Fortis hospital overcharge? That can be an arguable matter. But let me tell the society in the face – "You anyway can't afford hospitals like Fortis!" Corporate hospitals provide high end healthcare and they WILL charge on the same lines and you can do nothing about it. Those, who have been vandalizing small clinics, can't fucking break a window of such big corporate hospitals. 

Taking suo motu cognizance of the '16 Lakhs Fortis bill', National Pharmaceutical Pricing Authority (NPPA) under the Govt of India that shot a notice to the Fortis administration based on the things they read in newspaper! Few media houses are still writing columns about how hospitals and doctors are looting the poor. Does the"Nana Patekar's कलम वाली बाई"  in these so called journalists and media houses fall asleep when doctors are beaten up? Where the fuck are you guys when a hospital is broken into pieces and a doctor's courage is broken apiece? 

So many hospitals have been vandalized in recent times. Many doctors have been ruthlessly beaten up by crowds, with at least 4 doctors losing life in such situations in recent past. Doctors are leaving the profession or country because of such incidents; and there is no support from any politician or govt or intellectuals or liberals or leftists or rightists or the common people? No one fucking wants to return their awards now?!! Oh I forgot, those are reserved for publicity and political mileage over religious matters only!      

In India, there are 3 pillars of the healthcare domain today – 1.Govt hospitals (overburdened, neglected by govt); 2.corporate hospitals (most can't afford them); and 3.small clinics (run by individual doctors, affordable to most). With such vandalism at hospitals, attacks on doctors and lethal legislations like the Clinical Establishment Act (enacted at the behest of corporate giants), the middle buffer layer of small clinics in the society is dying a silent death. The day when small clinics will be uprooted in this country, will be the worst day in the history of healthcare in India. And clearly, only poor and commoners will be the sufferers of the outcome and not the wealthy or politicians who can afford Fortis!  

We have seen the society blindly running social campaigns for the religious, linguistic, political causes. We witnessed society running a campaign even to save the criminals convicted in the Supreme Court. We saw the society running a campaign so that someone doesn't become Prime Minister. We saw chest thumping by the intellectuals and nerds on topics like eating non-veg or even pollution during Diwali! We have witnessed hundreds of crap social campaigns for absurd causes that bring no fucking difference for the society itself. Why no one feels like taking up this issue and doing a candle-light march for "Save The Doctor" or "Save The Clinic" campaign which is essential for the society's future? Did a doctor not save your life ever?

Every time you beat up a doctor, you discourage 100 other docs from taking risk to save your life; you discourage them from going to villages where they have no protection. Every time you vandalize a small clinic, you open up a window for the future corporate dominance in healthcare. If healthcare in India has to be affordable to larger population, small clinics MUST survive! And society itself has to stand up to protect small clinics, individual doctors and, in turn, its own future. 

Despite such a pressing need for actions, I can't see even one intellectual or media-person or politician, or at least someone from this society standing up for doctors! Has the society gone brain-dead today? Does it need resuscitation? 

Oh sorry, the small clinic near you just shut down. You better rush to Fortis! 

© Dr Swapnil Kumar Kale 
DoxBay - The Doctor's Point of View
___________________________________
Share with your friends. Share unedited..
.
.
.
.
.
The Corporate Hospital Culture has made irreparable dents into the healthcare delivery system in India.
Somewhere in this five star luxury maze the friendly neighbourhood doctors and small nursing homes have been lost.
Who is to be blamed?The patients who run to these corporate hospitals at every sneeze or the small doctors who are being exploited by these big fish.
Majority of the medicos come from very humble backgrounds and do not have the requisite finances to built such lavish retreats.
The only thing they carry with them is talent and competence but then how many patients believe in that?
Howsoever one may say the common people are lured by extravaganza !Even those who cannot afford rush to these luxury hospitals assuming them to be best!
On top of it the lackadaisical attitude of our Government where healthcare is concerned has added to the woes of not only the general public but the medical fraternity too.The hands of government doctors are tied due to lack of facilities.
Many doctors are working in remotest areas,arranging camps,filtering patients,giving best of primary care but have no support from government forget about appreciation!

You cannot judge the whole medical fraternity on basis of a few black sheep!Which profession is devoid of these?

My question to all the general people and media who are on criticising spree is, if given a choice of going to your neighbourhood nursing home or a big corporate hospital, which one will you choose and why?

Monday, 4 December 2017

सरकारी अस्पताल में गये तो शिकायत थी भीड़ भाड़ है ,धक्का मुक्की है,गंदगी है ........... an eye opener truth


सरकारी अस्पताल में गये तो शिकायत थी
भीड़ भाड़ है ,धक्का मुक्की है,गंदगी है 
यहां तो मुसीबतें घनघोर हैं।

पड़ौस के नर्सिंग होम में गए तो शिकायत थी
सुविधाएं कम हैं , मैनेजमेंट नही है
ये दिल तो चाहे कुछ और है।

आलीशान कॉर्पोरेट में गये तो  शिकायत थी
महंगा है, मानवता नाम की चीज़ नही ,
ये  तो साले सब चोर हैं।

सौ रुपये फीस वाले फैमिली डॉक्टर से शिकायत थी अज्ञानी है, इसे तो न कोई तौर तरीका, न  कोई शऊर है,

हज़ार रुपये फीस वाले मॉडर्न डॉक्टर ने जब दस हज़ार की जांचे लिखी तो मुँह से निकला,
हाय !ये तो मुआ कमीशन खोर है।

झोलाछाप के हाथों मर भी गए तो कोई गिला नही,
पर जो किसी अस्पताल में खरोंच भी आई तो शिकायतों का दौर है।

डेंगू में प्लेटलेट बढ़ जाए तो बकरी के दूध की माया,
और जो कभी घट जाए , तो डॉक्टर को गरियाया।

बच्चे के जन्म पे डॉक्टर की फीस सुन के आंख भर आईं,
पर  शिशु के  जन्मोत्सव पे मदिरा में खूब दौलत उड़ाई।
बेटे की चाह में खुद अपनी कोख उज़ड़वाई,
और तुम्हारी विकृत सोच की सजा सोनोलोजिस्ट ने पाई।

संस्कृत के टीचर से क्या कभी किसी ने बच्चों को साइंस पढ़वाई?
पर तुमने देसी वैद्य से ज़िन्दगी
 भर अंग्रेज़ी दवा हंसते हंसते खाई।
जब फिजिशियन ने लिखी वो ही दवाई
 तो तुम्हें  झट से साइड इफेक्ट्स की याद आई।

मेरे प्यारे देशवासियो , 
जिन ज़हीन चिकित्सकों को मारते हो,पीटते हो ,कोसते हो और जिनसे तुम रखते हो इतना द्वेष
तुम्हे पता है, इन्ही सपूतों  का विदेशों में है दर्ज़ा विशेष!
ये न रहेंगे तो बहुत पछताओगे,
नीम हकीमों के हाथ अपनी इकलौती  जान गँवाओगे।

सदियों से सुनते आए हैं,  पहला सुख निरोगी काया,
पर तुम्हारी सरकारों को ये सत्य कभी समझ न आया।
नेताओं ,अफसरों ने घोटालों में इतना माल उड़ाया,
कि बजट में  सेहत के लिए कभी बची ही नहीं माया।।

-डॉ राज शेखर यादव
M.D.(Med)