ad

Monday, 21 March 2016

Jokes ........... JNU ke Sholay

JNU ke Sholay

मौसी: लेकिन बेटा, बुरा नहीं मानना, इतना तो पूछना ही पड़ता है, के लड़के का खानदान क्या है, उसके लच्छन कैसे है, कमाता कितना है?
दोस्त : कमाने का तो यह है,
मौसी....के एक बार स्टाईपेंड बंद हो गयी तो ... कमाने भी लगेगा |
मौसी : स्टाईपेंड मतलब? लड़का पढ रहा है ? फिर इतनी कम उमर में शादी ?
दोस्त : नहीं नहीं ये मैने कब कहा मौसी | लड़का तो २९ साल का है|
मौसी : हाय दैया, इतना बड़ा लड़का ? और रहता कहाँ है, होस्टल में ?
दोस्त : वैसे रहता होस्टल में है पर कभी कभी पुलिस थाने में भी सोना पड़ता है |
मौसी :  पुलिस थाने में ? तो क्या चोर है ?
दोस्त : वो और चोर ना... ना, मौसी वो तो क्रांतिकारी है | अब कभी कभी दोस्तों के साथ  अफज़ल के समर्थन के नारे देता पकड़ा गया तो पुलिस उठा के ले जाती है |
मौसी  : ओहो.. बस यही एक कमी रह गयी थी ?मतलब देशद्रोही है, वो |
दोस्त : मौसी आप तो मेरे दोस्त को गलत समझ रही हैं | वो तो इतना सीधा और भोला है की, आजादी के चक्कर में उसे होश ही नही रहता की वो कौनसे देश का है |
मौसी : अरे बेटा , मुझ बुढिया
को समझा रहे हो, मेरे बचपन में ही हम आज़ाद हो चुके हैं | अब कौनसी आज़ादी  मांग रहा है?
दोस्त: बस मौसी, उसका पता चलते ही हम आप को खबर दे देंगे|
मौसी  : एक बात की दाद दूंगी बेटा, भले सौ बुराईया हैं तुम्हारे दोस्त में, फिर भी तुम्हारे मुंह से उस के लिए, तारिफे ही निकलती है | 
दोस्त : अब क्या करुं मौसी.... मेरा तो नाम ही केजरीवाल  है |