ad

Saturday, 14 April 2018

Fresh Hindi Chutkule ..........


 Martin Luther king once said
"If u cant Fly,
Run;
If u cant Run,
Walk;
If u cant Walk😎
Crawl😎
But Keep Moving😎😎

 Punjabi Responded
"O tä theek hai 'Luthra' saab , par jana kithé hai😎😎😎
.
.
.
.
.
.
🤑🤑🤑🤑🤑🤑🤑🤑

*क्या रखा है अमेरिका और जापान  में*??
.
.

*कुछ दिन तो गुजारियें  हमारे हिन्दुस्तान में*....!!! 
*न ग्राहकी ,न धन्धे*

*सिर्फ़ जुलुस भंडारे व चंन्दे*


   
😂🤣😁😁😝😝😀😀
.
.
.
.
.
.
.
 😂😂
*:बदनामी की हद--*
एक गरीब आदमी प्रतिदिन कागज़ में लिखता। हे..प्रभु, मुझे ₹50000/- भेज दो। औऱ गुब्बारे में लिखकर उडा देता। वो गुब्बारा, पुलिस थाने के ऊपर से गुजरता और पुलिस कर्मी उस गुब्बारे को पकड़ कर वो पर्ची पढते और उस आदमी के भोलेपन पर हंसते। एक दिन पुलिस कर्मियों ने सोचा कि क्यों ना उस गरीब आदमी की मदद की जाए और पुलिस कर्मियों ने मिलकर ₹25000/- जमा किये और उस व्यक्ति को उसके घर जाकर दे आये ।
दूसरे दिन, पुलिस कर्मियों ने जब गुब्बारा रोक कर पर्ची पढ़ी तो होश उड़ गए उसमें लिखा था...!
प्रभु.. आपके द्वारा भेजे गए पैसे तो मिल गए। लेकिन आपको पुलिस वालो के हाथ नहीं भेजने चाहिए थे। साले ₹25000/- खा गए। 🤑🤑🤑
.
.
.
.
.
.
.
Do you know why it is mandatory to write the amount both in words & figures on a Bank Cheque.

Just enjoy the joke below:



*बैंक के नियम*...

शाम के *4.30 बजे*

*बैंक बंद* हो ही 

रहा था कि
..
ब्रांच मैनेजर के पास 

*बेहद दिलकश* 

और 

*शहद सी मीठी* 

आवाज में 

एक महिला का फोन 

आया--  

*"सर, मुझे 2 लाख रुपयों*

की तुरंत आवश्यकता है 

और *मैं सिर्फ*

*10 मिनिट में*

बैंक पहुँच जाऊँगी। 

क्या आप मेरा 
*इन्तजार कर सकते हैं?"*

उसकी आवाज 

*इतनी सुरीली* थी,

कि मैनेजर 

*मना नहीं कर सका।*
.
.
उसने *कैशियर* से 

कहा कि *कैश रेडी* रखे।

कैशियर ने 

*भुनभुनाते* हुए 

अपने बॉस का 

ऑर्डर माना।
.
थोड़ी ही देर बाद 

*बढ़ी हुई तोंद*

और 

*अजीबोगरीब फिगर* 

वाली *महिला* ने 

बैंक में प्रवेश किया
.
और *बैंक मैनेजर* को 

एक *चैक* देकर 

*कैश* की 

*डिमाण्ड* की।

मैनेजर जो एक 

*बहुत खूबसूरत महिला* 

की अपेक्षा कर रहा था, 

ने उस महिला को देख 

तुरंत अपना *इरादा बदल दिया।*

और कहा---

*"देखिए मैडम,*

आज का 

*कैश क्लोज*

हो चुका है; 

*आप कल आइए।"*
.
*कैशियर जो रेडी था,*

ने *मैनेजर* से पूछा---

"अगर *महिला* को 

*कैश नहीं* देना था 

तो हमने

*इन्तजार क्यूँ किया ??"*

मैनेजर--- 

*"देख भाई,*

मैं उसकी *हैल्प* 

तो करना चाहता था 

लेकिन, 

ये बैंकिंग का 

*अंतर्राष्ट्रीय नियम*

है कि---
.
*If Words & Figures*

*Don't Match,* 

*Payment Will Be*

*Declined."*

😜😝😂😃
.
.
.
.
.
.
.
आज चार्टर्ड बस से नागपुर से अकोला जा रहा था।
मेरे बाजू वाली सीट पर एक युवक और एक युवती बैठे थे।
दोनों एक दूसरे के लिए अजनबी थे।
थोड़े समय के बाद वे आपस में बातें करने लगे।
बातचीत उस मुकाम तक पहुँची जहाँ मोबाइल नंबर का आदान प्रदान होता है।
लड़के का मोबाइल किसी वजह से ऑफ था।

तो 

उसने अपनी जेब से एक कागज बरामद किया,लेकिन लिखने के लिए उसके पास पेन नहीं था।
बाजू की सीट पर बैठे हुए मेरा सारा ध्यान उन्हीं दोनों की तरफ था,  
इसलिए मैं समझ गया कि, लड़की का मोबाइल नंबर लिखने के लिए लड़के को पेन की जरूरत है।

उसने बड़ी आशा से मेरी तरफ देखा...

मैंने अपनी शर्ट के ऊपरी जेब में लगाकर रखा हुआ अपना पेन निकाला 
और..

चलती हुई बस से बाहर फेंक दिया।


और मन मैं मोदी जी के शब्द आये कि








*ना खाऊँगा, ना खाने दूँगा*
 😝😝😂😂
.
.
.
.
.
 🤔When I was in school, I used to ask a lot of questions....!!😃
One Day I asked Ms. Doris, our English teacher:"
Why do.we ignore some letters in pronunciation. eg the letter....'H'.......in Hour, Honest, Honor..... e.t.c.........???"

Ms. Doris: "We are not ignoring them; they are considered silent." ...!!
(I was even more confused.....😏🙅😱😵....??)

During the lunch break, MS. Doris gave me her packed 
lunch & asked me to heat it in the cafeteria.

I ate all the food and returned her an empty container....!!😏

Ms. Doris:---- "What happened, I told you to go and HEAT my food & you are returning me an empty container??"

Me: --- ".Madam I thought 'H' was silent" 
😅🤣😂😊😁😆😄

Sunday, 11 March 2018

Happy jokes for today


  *बीमार बीवी की शायरी*
तबीयत खराब थी, ना कोई दवा, न कोई ताबीज काम आया ,
फ़ोन कर के पति से लड़ी फिर जाकर थोड़ा आराम आया !!
.
.
.
.
.
 एक बार एक शेर और बैल पीने बैठे, 2 पेग के बाद शेर उठ के जाने लगा। बैल बोला अरे यार इतनी जल्दी क्या हैं, कुछ देर ओर बैठो।
शेर बोला देख बैल भाई तेरे घर पर तो गाय हैं लेकिन मेरे घर में शेरनी हैं, समझा कर।
.
.
.
.
.
.
 हस्बैंड ग़ुस्से में- क्या तुमने मुझे कुत्ता कहा, 

पत्नी चुप😗

हस्बैंड- क्या तुमने मुझे कुत्ता कहा,

पत्नी चुप😗

पति- क्या तुमने मुझे कुत्ता कहा, 

पत्नी- नही कहा, प्लीज अब भोकना बंद करो😜😜
.
.
.
.
.
.
 दो जिगरी दोस्त दारू पीने के बाद सिगरेट फूंकने की प्रक्रिया समाप्त कर चुके थे।
रजनीगंधा की पुड़िया फाड़ते हुए और उसमें तुलसी रगड़ते हुए
बहुत ही धीर गंभीर मुद्रा में बात कर रहे थे

.
.
.
.
.
मैगी मत खाया कर बे ...!
मैदा होता है बहुत नुक़सान करती है शरीर में...!
😜😂
.
.
.
.
.
.
.
 New Company recently registered in London by:

Lalit Modi, Vijay Mallya  Nirav Modi & Co. 

*Name of company* :: Hindustan Leavers..😂
.
.
.
.
.
.
 बेहतरीन पोस्ट लोड करने और एक भी लाइक न मिलने पर , जब अर्जुन ने खिन्न होकर अपना मोबाइल नीचे रख दिया, तब श्री कृष्णजी ने फेस बुक और व्हाट्सप्प के बाबत निम्न सत्य का ज्ञान उपदेश उसे दिये :

1. हे पार्थ !, जिन्हें तुम्हारे विचार अच्छे लगते हैं, वो बिना पढ़े ही तुम्हारी पोस्ट लाइक करेंगे । और जिन्हे नही करना होगा, चाहे तुम जो भी लिख लो नही करेंगे 

2. मुरलीधर कहते हैं, हे मोबाइल धर, कुछ महारथी तुम्हारी पोस्ट लाइक तो करेंगे, पर किन्ही कारण वश ग्रुप में दर्शा नही पाएंगे , ऐसे जातक तुम्हारी अन्य किसी माध्यम से ज़रूर प्रशंसा करेंगे ।

3. देवकीनंदन सावधान करते हुए बोले , अनेक अस्थिर प्रवृत्ति के मानव, जो तुम्हे पसंद नहीं करते, वो किसी भी स्तिथि में तुम्हारी किसी भी पोस्ट को लाइक नहीं करेंगे ,चाहे पोस्ट उन्हें कितनी भी पसंद आई हो ।

4. प्रभु बोले , परंतु पार्थ, तुम लाइक , शेयर और कमेंट के इस मोह चक्र से अपने को सर्वथा अलग रखना , और सतत् निष्काम भाव से लिखते रहना । आनंद से भरे सर्वोत्तम मेसेज फॉरवर्ड करते रहो । इसी में तुम्हारा कल्याण है ।

5. अपने अंतिम श्लोक में प्रभु अर्जुन को सावधान करते हुये कहते हैं, हे अर्जुन,! जब भी किसी गोपिका की मधुर छवि देखो तो उसे लाईक करना मत भूलना और उनकी कितनी भी पुरानी और बेमतलब की पोस्ट क्यों न हो तुम भी अन्य प्राणियों की तरह उसकी झूठी प्रशंसा करना मत भूलना, यही तुम्हे इस फेसबुक रूपी संसार मे श्रेष्ठता का बोध करायेंगी ।
.
.
.
.
.

 मोदी से परेशान लोगों के लिए खुशखबरी :-



*सुप्रीम कोर्ट ने इच्छा मृत्यु की इजाजत दे दी है।*

😜😜
.
.



.
.
 सवेरे सवेरे WhatsApp

*" हरिद्वार" होता है*   


*और*


*रात होते होते* *" पटाया "*
😜😛😀😛😀
.
.
.
.
.
एक झोलाछाप डाक्टर ने खुद के बारे मे कहा...

हमारी शख्शियत का अंदाज़ा तुम क्या लगाओगे ग़ालिब,, 

जब गुज़रते है क़ब्रिस्तान से 
तो मुर्दे भी उठ के पूछ लेते हैं...

कि डाॅक्टर साहब !!
अब तो बता दो मुझे तकलीफ क्या थी...!!

🤣🤣🤠🤠
.
.
.
.
.
.
Plz try jrur krna                                        
  खाली जगह में " हाँ " या " नहीं " भरो।

1..............मैं इंसान नहीं बन्दर   हूँ ।

2 ..............मैं ही पागल हूँ।

3 ..............मेरे दिमाग का कोई इलाज नहीं हैं।

4 ..............मुझे पागलखाने जाना हैं।
  

बुरे फंसे यार तुम भी फंसाओ। 😞
   😝  

Saturday, 10 March 2018

डॉक्टराें को भगवान का दर्जा


समाज के सभी लोगों से अपील, कि वो डॉक्टराें को भगवान का दर्जा न दे कर सिर्फ उनको मामुली इंसान ही
समझें क्योकिं वो अब अपने साथ भगवान जैसा हुआ व्यवहार सहने को तैयार नहीं हैं --


1--हर साल लोग भगवान के नाम पर अरबों रूपये का
चढ़ावा चढ़ाते हैं ,उसमे भगवान को क्या एक पैसा भी मिलता है ?लोग अपनी पसंद की कई किलो मिठाई (भगवान की पसंद की नहीं )खरीद कर प्रसाद चढ़ाते हैं .फिर प्रभु की मूर्ती के होठों पर एक चुटकी मिठाई चिपका कर बाकी की सब चट कर जाते हैं .इसी तरह बड़े होस्पिटल और फार्मा कंपनी डॉक्टर के नाम पर करोङों
कमा कर ज्यादातार पैसा खुद रख लेते हैं और डॉक्टर के नाम बदनामी की झूठन छोड़ देते हैं.


2 बड़े बड़े घरों में रहने वाले भी भगवान के लिये 3x3
फुट का संगमरमर का मंदिरनुमा दङबा बनाते हैं ,और सारे भगवानों को उसमें बेरहमी से ठूंस देते हैं .फिर लोग ये
उम्मीद करते हैं की five star होस्पिटलाें में काम करने वाला डॉक्टर भी बिना किसी सुविधा के छोटे से घर मैं रहे और 24 घंटे हाजिरी बजाये .


3--गर्मी में भी geyser के पानी से नहाने वाले लोग भी कड़कती ठंड में भगवान को सुबह सुबह ठंडे पानी से नहलाते है .इसी तरह वो समझते हैं की डॉक्टर को सर्दी या गर्मी नहीं लगती .


4-अगर आप अपने किसी मित्र को birthday gift के रुप में अपने कटे बालों का थैला दें तो क्या वो खुश होगा ?मगर वो भगवान को अपने बदबूदार ,जूँ और dandruff वाले बाल चढाकर खुश करना चाहता है .इसी तरह सबको लगता की मल मूत्र और मवाद के बीच खङा हो कर भी डॉक्टर खुश रहे .


5-जिस तरह भगवान की कोई privacy नहीं होती कि कोई भी भक्त किसी भी समय जाेर -जाेर से घंटी बजाकर उसकी
पूजा कर सकता है ,उसी तरह कोई भी मरीज डॉक्टर के mobile की घंटी कभी भी बजा सकता है और रात में दो बजे फ़ोन करके ये पूछ सकता है की सुबह दलिया खाना है या नहीं ?.


6--जिस तरह अगर कोई student साल भर ना पढ़े और exam में फेल हो जाये , तो भी कहता है कि हे भगवान तेरी वजह से फेल हो गया ,वैसे ही हर शराबी ,कबाबी और
लापरवाह इंसान अपने खराब स्वास्थ्य का जिम्मेदार डॉक्टर को ही मानता है .


7-जिस तरह त्योहार खत्म होने के बाद पूजी जाने वाली मूर्तियों को या तो नदी में बहा दिया जाता है या किसी पुराने पेङ के नीचे कुत्तों की निगरानी में फेंक दिया जाता है ,मरीज ठीक होने के बाद डॉक्टर का यही हाल होता है .
इस लिये समाज के ठेकेदारों हम भगवान के पद से इस्तीफा देते हैं .बस हमें इंसानों की तरह चैंन से जीने दो नहीं तो हमारी काैम खत्म हो जायेगी .